एसपीजी (SPG Security) क्या हैं (full form, Salary)

एसपीजी सुरक्षा क्या है (SPG Security Kya Hai), एसपीजी कमांडो कैसे बने? (SPG Commando kaise Bane), एसपीजी की स्थापना कब हुई (SPG ki sthapna kab hui), एसपीजी सुरक्षा नियम (SPG Suraksha Niyam), एसपीजी कमांडो सैलरी (SPG Commando Per Month Salary)

विश्व में जितने भी देश है उन सभी देशो के प्रधानमंत्री को उस देश की सर्वश्रेष्ठ सुरक्षा एजेंसी को प्रधानमंत्री के सुरक्षा की जिम्मेदारी दी जाती है। बात करे अगर भारत यानी अपने देश की तो भारत के प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी की सुरक्षा की जिम्मेदारी भारत की सर्वश्रेष्ठ सुरक्षा एजेंसी एसपीजी द्वारा की जाती है।

आज हम इस आर्टिकल में आपको एसपीजी कमांडो प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए भर्ती होने से पहले जो अभ्यर्थी सभी प्रकार के टेस्ट को पास करता है उसे ही प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए एसपीजी में भर्ती किया जाता है। तो आइए जान लेते हैं कि आखिर एसपीजी क्या है अथवा एसपीजी का मतलब क्या है।

एसपीजी सुरक्षा क्या है (SPG Security Kya Hai)

SPG Security : Overview

SPG Commando Job Profile
संस्था स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप
स्थापना 8 अप्रैल, 1985
देश भारत
हेड क्वार्टर नई दिल्ली
डायरेक्टर अरुण कुमार सिन्हा
वेबसाइट Spg.nic.in
काम स्पेशल लोगों को सिक्योरिटी देना

एसपीजी का फुल फॉर्म क्या है? SPG Full Form kya hai

SPG Full Form Special Protection Group (स्पेशल प्रोटक्शन ग्रुप)  होता है जिसे हिंदी में विशेष सुरक्षा दल के नाम से जानते है। देश के सबसे पेशेवर और अत्याधुनिक सुरक्षा बलों में से एक स्पेशल प्रोटक्शन ग्रुप यानी विशेष सुरक्षा दल संघ के एक सशस्त्र सेना है। जो देश के प्रधानमंत्री और पूर्व प्रधान मंत्रियों समेत उनके परिवार के निकटतम सदस्य को भी सुरक्षा प्रदान करते हैं।

  Railway Coach Factory RCF Kapurthala Apprentice Recruitment 2023 | 500+ से ज्यादा पदों पर निकली आरसीएफ रेलवे अपरेंटिस भर्ती 2022

एसपीजी सुरक्षा क्या है SPG Security kya hai

जिस प्रकार सभी देश के प्रमुख पदों के सुरक्षा के लिए अलग अलग प्रकार की सेना है उसे प्रकार भारत में कुछ प्रमुख पदों के लिए एसपीजी सुरक्षा प्रदान करती है।  इस लिस्ट में सबसे प्रमुख पद है भारत के प्रधानमंत्री, जिनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी का जिम्मा एसपीजी कमांडो के उपर होता है।

एसपीजी सिक्योरिटी क्यों दी जाती है?

एसपीजी कमांडो की सबसे खास बात यह है की ये जिसकी भी सुरक्षा की जिम्मेदारी का जिम्मा लेते है उसे निभाते समय यदि इनकी मृत्यु भी हो जाये फिर भी ये पीछे नहीं हटते है इसी लिए यह देश की सबसे अभेद सुरक्षा एजेंसी मानी जाती है।

बात करे अगर भारत के प्रधानमंत्री की तो यह भारत का सबसे महत्वपूर्ण पद है। ऐसे में भारत के प्रधानमंत्री के उपर हमेशा दुसरे देशो के दुश्मनों की नजर बनी रहती है या यू कहे तो धमकियाँ मिलती रहती है इस लिए भारत के प्रधान मंत्री को देश की सबसे अच्छी अभेद सुरक्षा एजेंसी को ये काम दिया जाता है।

जो भी जवान एसपीजी सिक्योरिटी में शामिल होते हैं उन्हें पहले ही यह कह दिया जाता है कि उनका सबसे पहला कर्तव्य है प्रधानमंत्री की सुरक्षा करना। फिर चाहे उन्हें उनकी सुरक्षा के लिए अपनी जान ही क्यों न देनी पड़े या फिर दुश्मन की जान ही क्यों न लेनी पड़े।

एसपीजी की स्थापना कब हुई? SPG ki sthapna kab hui

स्पेशल टॉस्क फोर्स (SPG) का गठन साल 1985 में हुए केंद्र सरकार द्वारा किया गया था। यह कदम प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 1984 में उनके बॉडी गॉर्ड्स द्वारा हत्या करने के बाद उठाया गया था। जिसका उद्देश्य प्रधानमंत्री, पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिवार के करीबी सदस्यों को सुरक्षा प्रदान करना है।

  Srinivasa Ramanujan Biography In Hindi : गणित के जादूगर श्रीनिवास रामानुजन का जीवन परिचय

इसके पहले 1981 से 1984 तक प्रधानमंत्री की सुरक्षा तीन साल तक आईबी और एसटीएफ के पास रही थी। और उसके पहले यानी साल 1981 तक, प्रधानमंत्री के आवास पर सुरक्षा की जिम्मेदारी दिल्ली पुलिस के पास थी। लेकिन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद बीरबल नाथ कमेटी ने एसपीजी बनाने का प्रस्ताव दिया और फिर उसके बाद कैबिनेट की मंजूरी के बाद 1985 में उसका गठन हुआ।

एसपीजी कमांडो कैसे बने? SPG Commando kaise Bane

यदि आप भारत के सबसे अभेद एजेंसी एसपीजी कमांडो बनना चाहते है तो आपको बता दे कि कि जितने भी अभ्यर्थी एसपीजी में भर्ती होते हैं उनका सिलेक्शन करने के लिए बीएसएफ, सीआईएसएफ, आईटीबीपी, सीआरपीएफ का इस्तेमाल होता है और इन्हीं में से कुछ स्पेशल जवानों का सिलेक्शन करके उन्हें ट्रेनिंग दी जाती है और ट्रेनिंग पूरी होने के बाद उन्हें एसपीजी में शामिल कर लिया जाता है।

एसपीजी कमांडो बनना बहुत ही कठिन होता है। इसलिए जिनका सिलेक्शन ट्रेनिंग के लिए होता है उसमें से भी कई अभ्यर्थी ट्रेनिंग पूरी नहीं कर पाते हैं और आधे रास्ते से ही वह बाहर हो जाते हैं। जो अभ्यर्थी ट्रेनिंग पूरी कर लेते हैं उन्हें एसपीजी कमांडो कहा जाता है

एसपीजी कमांडो सैलरी SPG Commando Per Month Salary

एसपीजी कमांडो की सैलरी में बात करे तो शुरुवात में ही 84,000 से लेकर के 90000 रूपये तक की सैलरी प्राप्त होती है। इनकी अधिकतम सैलरी महीने में 240000 रूपये के आसपास तक होती है। बोनस के तौर पर इन्हें 150 रूपये से लेकर के 16,000 रूपये प्राप्त होते हैं और इन्हें तकरीबन 10000 रूपये तक का कमीशन भी मिलता है।

  UP Kisan Karj Mafi List 2023 in Hindi : यूपी किसान कर्ज माफ़ी सूची, नयी लिस्ट देखें

इस नौकरी में आपको अच्छी खासी सैलरी के साथ साथ साल भर में काफी छुट्टियाँ भी मिलती है।  इसके अलावा उनका पीएफ और टीडीएस भी कटता है ताकि भविष्य में उन्हें रिटायरमेंट के बाद अच्छे पैसे प्राप्त हो।

बात करे अगर और सुविधाओ की तो एसपीजी कमांडो रेलवे में मुफ्त यात्रा का प्रावधान भी है, साथ ही प्रधानमंत्री के साथ रहने के कारण इनके खाने पीने की व्यवस्था और उनका खर्चा गवर्नमेंट के कोटे से कटता है।

एसपीजी के महानिदेशक कौन है (SPG Ke Mahanirdeshak Kaun hai)

भारत सरकार के मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने विशेष सुरक्षा समूह (SPG) के निदेशक के लिए आइपीएस अरुण कुमार सिन्हा को नियुक्त किया है।

इसे भी पढ़े


Leave a Reply

Scan the code